ताजा खबरें >- :
दूसरी सूची जारी होने के बाद उत्तराखंड कांग्रेस में बगावत के सुर तेज

दूसरी सूची जारी होने के बाद उत्तराखंड कांग्रेस में बगावत के सुर तेज

दूसरी सूची जारी होने के बाद उत्तराखंड कांग्रेस में बगावत के सुर तेज हो गए हैं। पार्टी द्वारा लालकुआं विधानसभा से संध्या डालाकोटी को प्रत्याशी घोषित करते ही कांग्रेस में हलचल मच गई है। मंगलवार की सुबह पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल के आवास पर आयोजित महापंचायत में सैकड़ों की संख्यां में समर्थक धमक पड़े। जिसके बाद कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा देकर दुर्गापाल को निर्दल चुनाव में उतरने का ऐलान कर दिया।

सोमवार को कांग्रेस ने पूर्व ब्लॉक प्रमुख संध्या डालाकोटी को लालकुआं विधानसभा का प्रत्याशी घोषित किया। जिससे दुर्गापाल व हरेंद्र बोरा के समर्थकों में आक्रोश फैल गया। मंगलवार की प्रातः सैकड़ों समर्थक हरीश चंद्र दुर्गापाल के हल्दुचौड़ स्थित आवास पर पहुंच गए। जिन्होंने कांग्रेस पार्टी के खिलाफ नारेबाजी करते हुए दुर्गापाल से निर्दल चुनाव लड़ने का निवेदन किया।करीब तीन घंटे तक चली महापंचायत में चोरगालिया, गौलापार, बरेली रोड, लालकुआं व बिदुखत्ता के समर्थकों ने दुर्गापाल को समर्थन देते हुए कांग्रेस से इस्तीफा देने का एलान कर दिया। जिसके बाद कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री ने कहा की उन्होंने हमेशा कांग्रेस के लिए काम किया है। लेकिन समर्थकों की राय सर्वोपरि है। अगर जनता चाहती है तो वह निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे। इस दौरान वह कई बार भावुक हो गए।

मंगलवार की सुबह पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल अपने आवास पर कार्यकर्ताओं से राय सुमारी कर रहे थे। तभी कांग्रेस पार्टी की अधिकृत प्रत्याशी संध्या डालाकोटी व उनके पति समर्थकों के साथ के उनके आवास पर पहुंच गये। लेकिन दुर्गापाल समर्थकों ने उनका मुख्य द्वार बंद कर दिया और संध्या डालाकोटी के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया। आक्रोशित कार्यकर्ता दुर्गापाल व हरेन्द बोरा के पक्ष व कांग्रेस पार्टी के खिलाफ नारे लगाने लगे। काफी देर तक समर्थकों ने संध्या डालाकोटी को दुर्गापाल के घर में घुसने नहीं दिया। जिसके बाद संध्या डालाकोटी और उनके पति कांग्रेसी नेता किरन डालाकोटी समर्थकों के साथ गेट के बहार धरने पर बैठ गईं। पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल के पुत्र पंकज दुर्गापाल उनको समझाते रहे कि वह इस समय लौट जाएं क्योंकि कार्यकर्ता अत्यधिक आक्रोशित हैं। इधर गेट के अंदर कार्यकर्ताओं से रायसुमारी के दौरान कांग्रेस से इस्तीफा देने का एलान कर दिया। जिसके बाद संध्या डालाकोटी समर्थको के साथ वापस चली गईं।

Related Posts