ताजा खबरें >- :

चमोली के युवक ने कड़ी मेहनत के बाद , तीन साल में तैयार किया चंदन का वन

चमोली जिले के कर्णप्रयाग ब्लॉक स्थित ग्राम ग्वाड़ तोक निवासी एक युवक ने अपनी जमीन पर परंपरागत खेती से हटकर चंदन का जंगल उगाने की योजना बनाई तो ग्रामीणों ने उसका खूब मजाक उड़ाया। लेकिन, युवक भी अलग ही मिट्टी का बना हुआ था। सो, ग्रामीणों की परवाह कर वह चंदन का जंगल लगाने में
Complete Reading

उत्तराखंड -मोदी की उम्मीदों को पंख लगाता नमामि गंगे अभियान

उत्तराखंड में गंगा को स्वच्छ और निर्मल बनाने की दिशा में चलाया जा रहा नमामि गंगे अभियान प्रधानमंत्री मोदी की उम्मीदों को पंख लगाता नजर आ रहा है .अब इस दिशा में एक ओर महत्वपूर्ण कदम आगे बढ़ाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 29 सितंबर को नमामि गंगे के तहत नौ एसटीपी का लोकार्पण
Complete Reading

जब मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने की धान की कटाई

येे अपनी जडो सेे जुुुडाव ही हैै जो  व्यक्त्ति को सीधे अपनी ओर खीचता हैै .ऐसा ही वाकया  शनिवार को घंडियाल में हुआ जब सूबे के मुखिया त्रिवेंद्र सिहं रावत ने कल्जीखाल ब्लॉक के घंडियाल  में खेतों के निरिक्षण के दौरान दंराती उठाई और सीधे धान(सठ्ठी) की कटाई करने लग गये इस दौरान सीएम ने
Complete Reading

गंगा का पानी कम से कम नहाने लायक तो हो :NGT

करीब चार दशक सर्वोच्च न्यायालय और राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) की निगरानी के बाद भी सबसे पवित्र माने जाने वाली गंगा नदी अबतक स्वच्छ नहीं हुई। अब इसे गंभीरता से लेते हुए अधिकरण ने नदी के कायाकल्प के लिए राज्यों में बनी समिति (आरआरसी) को गंगा को कम से कम लोगों नहाने लायक बनाने के
Complete Reading

प्रकृति की वंदना का पर्व है हरेला-त्रिवेंद्र

हरियाली का प्रतीक “हरेला पर्व” पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिह रावत ने मुख्यमंत्री आवास में वृक्षारोपण किया। उन्होने प्रदेशवासियो से अपील की कि हर व्यक्ति को एक पौधा अवश्य लगाना है . प्रकृति के संतुलन को बनाये रखने के लिये पेडो का मह्त्व कितना जरुरी है ये बात हम सबको समझनी है . मुख्यमंत्री ने कहा
Complete Reading

गौरा देवी ने दुनिया को पर्यावरण के प्रति किया जागरुक-त्रिवेंद्र

उत्तराखंड मीडिया :विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर आज उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सीएम आवास में वृक्षारोपण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने सभी को पर्यावरण दिवस की शुभकामनाएं देते हुये कहा की एक दूरस्थ गांव में गौरा देवी जैसी महिला ने दुनिया को पर्यावरण के प्रति जागरुक करने का काम किया। वृक्ष बचाने
Complete Reading

पूर्वी एशिया में पैदा होने वाली सजावटी (कट फ्लावर) फूलों की प्रजातियों को उत्तराखंड की जमीन भी रास आने लगी

नीदरलैंड्स, साउथ अफ्रीका, उत्तरी अमेरिका और पूर्वी एशिया में पैदा होने वाली सजावटी (कट फ्लावर) फूलों की प्रजातियों को उत्तराखंड की जमीन भी रास आने लगी है। हल्द्वानी स्थित वन अनुसंधान केंद्र की नर्सरी में इन प्रजातियों के पौधों के लिए अनुकूल वातावरण तैयार करने में सफलता मिली है। ट्यूलिप के बाद अब ग्लेडियोलस व
Complete Reading

चैत महीने की संक्रांति को उत्तराखंड में मनाया जाता है फूलदेई का पर्व; याद दिलाता है कि प्रकृति के बिना इंसान का अस्तित्व नहीं

चैत के महीने की संक्रांति को, जब ऊंची पहाड़ियों से बर्फ पिघल जाती है, सर्दियों के मुश्किल दिन बीत जाते हैं, उत्तराखंड के पहाड़ बुरांश के लाल फूलों की चादर ओढ़ने लगते हैं, तब पूरे इलाके की खुशहाली के लिए फूलदेई का त्योहार मनाया जाता है। ये त्योहार आमतौर पर किशोरी लड़कियों और छोटे बच्चों
Complete Reading

राजभवन में वसंतोत्सव पुष्प प्रदर्शनी रद्द

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने 14 मार्च से होने वाली वसंतोत्सव पुष्प प्रदर्शनी को रद्द कर दिया है। कोरोनावायरस के संभावित संक्रमण को लेकर सावधानी बरतते हुए राज्यपाल ने यह फैसला लिया है। राजभवन में 14 और 15 मार्च को पुष्प प्रदर्शनी का आयोजन प्रस्तावित था। इस बार राजभवन में ट्यूलिप फूलों की कई किस्मों
Complete Reading

चोरडा झील से होगी ग्रीष्मकालीन राजधानी की जलापूर्ति

गैरसैण को ग्रीष्मकालीन राजधानी घोशित करने के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शुक्रवार को गैरसैंण में बनने वाली चोरड़ा झील का स्थलीय निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि गैरसैंण में पेयजल की व्यवस्थाओं के लिए सुनियोजित प्लानिंग की जाए। ग्रीष्मकालीन राजधानी बनने के बाद गैरसैंण एवं उसके आस-पास के क्षेत्रों में
Complete Reading