ताजा खबरें >- :
दो नवजात की दून महिला अस्पताल में मौत

दो नवजात की दून महिला अस्पताल में मौत

दून अस्पताल में दो नवजात की मौत हो गई। अस्पताल के चिकित्सकों पर परिजनों ने उपचार में लापरवाही का आरोप लगा हंगामा किया। अस्पताल के अधिकारी मौके पर पहुंचे और प्रकरण की जांच कराने का आश्वासन देकर परिजनों को शांत कराया।

उत्तरकाशी निवासी गर्भवती सावित्री को दून महिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मंगलवार सुबह उसका अल्ट्रासाउंड कराया गया। परिजनों का कहना है कि उस समय चिकित्सक ने बताया कि बच्चे को कोई दिक्कत नहीं है। अपराह्न में गर्भवती को लेबर रूम में ले जाया गया। जहां कुछ देर बाद उसने बच्चे को जन्म दिया।

बताया जा रहा है कि इसके कुछ देर बाद नवजात की मौत हो गई। ऐसे में गर्भवती महिला के परिजनों ने चिकित्सकों पर उपचार में लापरवाही बरतने का आरोप लगा हंगामा किया और बच्चा का शव लेने से इन्कार कर दिया।परिजनों का आरोप है कि चिकित्सकों द्वारा पहले कुछ नहीं बताया गया। इलाज में लापरवाही बरतने पर नवजात की मौत हुई है।

उधर, दूसरे मामले में भी नवजात की मौत हुई है। बताया जा रहा है कि बच्चे को जन्म देने वाली महिला (शिमला बाईपास निवासी) एचआइवी पीडि़त थी। बहरहाल हंगामे की सूचना पर जनसंपर्क अधिकारी महेंद्र भंडारी व सहायक जनसंपर्क अधिकारी संदीप राणा मौके पर पहुंचे। उन्होंने किसी तरह परिजनों को समझा बुझाकर मामला शांत कराया।

दून मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आशुतोष सयाना के मुताबि, डॉक्टरों और स्टाफ से बात की है।परिजनों का लापरवाही का आरोप गलत है।लिखित में शिकायत आने पर जांच कराई जाएगी।

 

Related Posts