ताजा खबरें >- :
प्रदेश के दून मेडिकल कालेज, श्रीनगर मेडिकल कालेज व हल्द्वानी मेडिकल कालेज में ट्रामा सेंटर बनकर तैयार हो गए हैं, जो जल्द शुरू हो जाएंगे।

प्रदेश के दून मेडिकल कालेज, श्रीनगर मेडिकल कालेज व हल्द्वानी मेडिकल कालेज में ट्रामा सेंटर बनकर तैयार हो गए हैं, जो जल्द शुरू हो जाएंगे।

प्रदेश के दून मेडिकल कालेज, श्रीनगर मेडिकल कालेज व हल्द्वानी मेडिकल कालेज में ट्रामा सेंटर बनकर तैयार हो गए हैं, जो जल्द शुरू हो जाएंगे। इन ट्रामा सेंटर में 24 घंटे आपातकालीन सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। जिसमें न्यूरो, आर्थो एवं एनेस्थिसिया के चिकित्सक एवं अन्य मेडिकल स्टाफ उपलब्ध रहेगा। स्वास्थ्य मंत्री डा. धन सिंह रावत ने दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय में विश्व ट्रामा सप्ताह की शुरुआत करते यह बात कही।स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि विश्व ट्रामा सप्ताह के अवसर पर प्रदेशभर में ट्रामा से बचाव को जन सामान्य को जागरूक करने के उद्देश्य से ‘ट्रामा रथ’ को रवाना किया गया है, जो आधुनिक सुविधाओं से युक्त है। इस रथ के साथ 12 सदस्यीय टीम है।

जिसका एम्स के चिकित्सक डा. मधुर उनियाल नेतृत्व कर रहे हैं। यह टीम जन सामान्य को नुक्कड़ नाटक के माध्यम से समाज को हेलमेट पहनने, शराब का सेवन न करने आदि संदेश देगी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि ट्रामा सप्ताह दून मेडिकल कालेज एवं एम्स ऋषिकेश के संयुक्त तत्वावधान में संचालित किया जा रहा है।इस दौरान उन्होंने चौरा चाकीसैंण निवासी शाखा देवी और चौथाण कांडई निवासी एक वर्षीय दीपक की कुशलक्षेम भी पूछी। दोनों दून अस्पताल के आइसीयू में भर्ती हैं। इस अवसर पर अपर सचिव स्वास्थ्य सी रविशंकर, दून मेडिकल कालेज के प्राचार्य डा. आशुतोष सयाना, चिकित्सा अधीक्षक डा. केसी पंत, उप निदेशक एमके पंत, डा. अनिल जोशी, डा. मधुर उनियाल, महेंद्र भंडारी, अशोक उनियाल आदि मौजूद रहे।

 

Related Posts