ताजा खबरें >- :
तेज आंधी तूफान कई जगह पेड़ गिरने की घटनाएं सामने आईं

तेज आंधी तूफान कई जगह पेड़ गिरने की घटनाएं सामने आईं

देर रात आए तेज आंधी तूफान ने हरिद्वार में जमकर कहर बरपाया। कई जगह पेड़ गिरने की घटनाएं सामने आईं। लक्सर कोतवाली क्षेत्र में पेड़ के नीचे आने से एक युवक की मौत हो गई। 25 वर्षीय मृतक युवक का नाम सुमित है जो लक्सर के बीजोपुरा गांव का निवासी है। पुलिस ने मृतक का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भिजवा दिया है।रविवार देर रात अचानक तेज आंधी तूफान चलने लगा। सुमित बीजोपुर्रा गांव से सुल्तानपुर अपनी रिश्तेदारी में गया हुआ था। सुबह करीब 4 बजे वो सुल्तानपुर से घर के लिए निकला। जैसे ही वो लक्सर में चौधरी पेट्रोल पंप के पास पहुंचा, अचानक तेज आंधी से सड़क किनारे खड़ा पेड़ गिर पड़ा।

बाइक चला रहा सुमित पेड़ के नीचे दब गया और मौके पर ही मौत हो गई। लक्सर चौकी प्रभारी यशवीर सिंह नेगी ने बताया कि मृतक युवक के सिर में गहरी चोटी आई है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है। वही युवक की मौत से परिजनों में शोक की लहर है।रुड़की में रात के समय तेज आंधी एवं बारिश की वजह से रुड़की शहर में सुबह दस बजे तक बिजली गुल रही। हालांकि आधे से अधिक शहर में 10 बजे के बाद भी आपूर्ति शुरू नहीं हो सकी है। बिजली की लाइनों पर जगह-जगह पेड़ टूटकर गिर गए हैं। कैनाल रोड पर तो खंभे भी तिरछे हो गए हैं। इसके अलावा बिजली की तार भी टूट गई है।

रुड़की, मंगलौर, रामनगर व भगवानपुर डिवीजन के 213 गांवों की बिजली भी रात से गुल है। बिजली गुल होने के साथ ही शहर से लेकर देहात तक सुबह के समय पानी की आपूर्ति भी प्रभावित हुई है। वहीं हरिद्वार रोड पर एक विशालकाय पेड़ सड़क पर आ गिरा। पेड़ गिरने की वजह से इस मार्ग पर यातायात बाधित हो गया। दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। जिसके चलते यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा।सूचना पाकर अग्निशमन विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई। टीम ने पेड़ों को काटकर यातायात को सुचारू किया। हालांकि पुलिस की ओर से वाहनों को बाईपास से होकर निकाला गया। ऊर्जा निगम के उप महाप्रबंधक राहुल जैन ने बताया कि रुड़की शहर में तो दोपहर तक बिजली आपूर्ति सुचारू कर दी जाएगी। देहात क्षेत्र में आपूर्ति को सुचारू करने में समय लगेगा। उन्होंने बताया कि आंधी से काफी नुकसान हुआ है।

Related Posts