ताजा खबरें >- :
मुख्य सचिव डा एसएस संधु ने  केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों और बदरीनाथ धाम के मास्टर प्लान की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए

मुख्य सचिव डा एसएस संधु ने केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों और बदरीनाथ धाम के मास्टर प्लान की समीक्षा के दौरान निर्देश दिए

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की परिकल्पना के अनुरूप नए कलेवर में निखर रही केदारपुरी में द्वितीय चरण के पुनर्निर्माण कार्य अब तेजी से होंगे। मुख्य सचिव डा एसएस संधु ने बुधवार को सचिवालय में केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों और बदरीनाथ धाम के मास्टर प्लान की समीक्षा के दौरान इस संबंध में निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि केदारनाथ में निर्धारित समय सीमा में कार्य पूर्ण करने के लिए श्रमिकों की संख्या बढ़ाई जाए।

केदारनाथ में 225 करोड़ रुपये की लागत से प्रथम चरण के पुनर्निर्माण कार्य पूर्ण हो चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पिछले वर्ष पांच नवंबर को केदारपुरी में 184 करोड़ रुपये की लागत से होने वाले द्वितीय चरण के पुनर्निर्माण कार्यों का शिलान्यास किया था।इन कार्यों में केदारनाथ में संगम घाट का पुनर्विकास व रेन शेल्टर शेड, प्राथमिक चिकित्सा एवं पर्यटक केंद्र, मंदाकिनी आस्था पथ पंक्ति प्रबंधन, मंदाकिनी वाटर एटीएम एवं मंदाकिनी प्लाजा, प्रशासनिक कार्यालय एवं अस्पताल भवन, केदारनाथ में संग्रहालय (म्यूजियम) और सरस्वती सिविक एमेनिटी भवन शामिल हैं।

बुधवार को हुई समीक्षा बैठक में मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि केदारपुरी में पुनर्निर्माण कार्यों में तेजी लाई जाए। उन्होंने निर्माण सामग्री की आपूर्ति और परिवहन पर ध्यान केंद्रित करने को कहा।साथ ही पुनर्निर्माण कार्यों में लगे श्रमिकों के रहने-खाने की उचित व्यवस्था करने, उनके बिलों का समय से भुगतान करने और निर्माण सामग्री की आपूर्ति व भंडारण की उचित व्यवस्था के निर्देश भी दिए।उन्होंने केदारनाथ की भांति बदरीनाथ धाम को विकसित करने के दृष्टिगत होने वाले पुनर्निर्माण कार्यों के लिए तैयार मास्टर प्लान की समीक्षा भी की। बैठक में प्रमुख सचिव आरके सुधांशु, सचिव दिलीप जावलकर, अरविंद सिंह ह्यांकी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 

Related Posts