ताजा खबरें >- :
रोजगार देने की मांग ; आरजेपी के नेताओं के सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह से उलझने पर पुलिस ने लाठियां फटकार कर उन्हें दूर तक खदेड़ दिया

रोजगार देने की मांग ; आरजेपी के नेताओं के सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह से उलझने पर पुलिस ने लाठियां फटकार कर उन्हें दूर तक खदेड़ दिया

स्थानीय युवाओं को उद्योगों में 70 प्रतिशत रोजगार देने की मांग को लेकर हरिद्वार-दिल्ली हाईवे पर बैठे राष्ट्रवादी जनलोक पार्टी (आरजेपी) के नेताओं के सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह से उलझने पर पुलिस ने लाठियां फटकार कर उन्हें दूर तक खदेड़ दिया। इसके बाद ही हाईवे पर वाहनों की आवाजाही हो पाई। इसके बाद संगठन के प्रमुख पदाधिकारियों ने सिटी मजिस्ट्रेट जगदीश लाल को अपनी मांग से संबंधित ज्ञापन सौंप दिया। वहीं देर शाम को शेर सिंह राणा व समर्थकों पर दो अलग-अलग मुकदमें दर्ज किए गए हैं। इस मामले में शहर कोतवाली में शेर सिंह राणा व 200 कार्यकर्ताओं पर कोविड गाइडलाइन का उल्लंघन करने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं, कनखल थाने में हाइवे पर जाम लगाकर रास्ता अवरुद्ध करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।

रविवार को पार्टी के संयोजक शेर सिंह राणा ने सूबे में लगी औद्योगिक ईकाइयों में 70 फीसद युवाओं की हिस्सेदारी तय करने की मांग को लेकर ऋषिकुल मैदान से चंडीघाट चौक तक वाहन रैली निकालने का ऐलान किया था। दोपहर करीब 12 बजे के आसपास पार्टी संयोजक की अगुआई में कार्यकत्र्ता ऋषिकुल मैदान में एकत्र होने लग गए थे। लेकिन, लक्सर पट्टी के ग्रामीण अंचल से आ रहे कार्यकत्र्ताओं को फेरुपुर पुलिस चौकी पर बैरियर लगाकर पुलिस फोर्स ने रोक लिया। इसकी जानकारी मिलने पर पार्टी संयोजक शेर सिंह राणा ने मौके पर मौजूद सिटी मजिस्ट्रेट जगदीश लाल, सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह से कार्यकत्र्ताओं को रैली स्थल तक आने देने की बात कही। लेकिन, काफी समय बीतने पर भी जब कार्यकत्र्ताओं को नहीं आने दिया गया। तब इस बात से गुस्साए कार्यकत्र्ताओं ने ऋषिकुल पुल के पास हरिद्वार-दिल्ली हाईवे पर जाम लगा दिया। हाईवे पर जाम लगने से दोनों तरफ भारी-हल्के वाहनों की लंबी लाइन लग गई।

Related Posts