ताजा खबरें >- :
देहरादून महारैली में आज जुटेंगे प्रदेशभर के एससी-एसटी कर्मचारी

देहरादून महारैली में आज जुटेंगे प्रदेशभर के एससी-एसटी कर्मचारी

प्रमोशन में आरक्षण और सीधी भर्ती में पुराने आरक्षण रोस्टर को लागू करने की मांग को लेकर प्रदेशभर के एससी एसटी कर्मचारी राजधानी देहरादून में आज होने वाली महारैली में जुटेंगे। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि सरकार आरक्षण प्रदान नहीं करती तो ये वर्ग सामूहिक रूप से धर्म परिवर्तन पर विचार करेगा।

एससी एसटी इंप्लाइज फेडरेशन के आह्वान पर आयोजित ये महारैली सचिवालय तक कूच करेगी। इस दौरान मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा जाएगा। फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष करम राम ने कहा कि महारैली की तैयारी पूरी कर ली गई है।

महारैली में प्रदेशभर से बड़ी संख्या में एससी एसटी और ओबीसी वर्ग के कर्मचारी देहरादून पहुंचेंगे। उनके अनुसार, दूरदराज के सैकड़ों कर्मचारी देहरादून पहुंच भी चुके हैं। बाकी आसपास के जनपदों के कर्मचारी आज देहरादून पहुंचे हैं। कर्मचारी परेड ग्राउंड में एकत्रित हो रहे हैं और वहां से महारैली की शक्ल में सचिवालय के लिए कूच करेंगे।

एससी एसटी इंप्लाइज फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष करम राम ने कहा कि उनके आंदोलन को अखिल भारतीय ओबीसी महासभा ने समर्थन दिया है। इसके अलावा एससी, एसटी, ओबीसी और अल्पसंख्यक वर्ग से जुड़े एक अन्य संगठन ने भी समर्थन किया है। समर्थन के संबंध में महासभा के मुख्य संयोजक विजय सिंह पाल ने उन्हें पत्र भेजा है। उनका संगठन शुक्रवार को महारैली में हिस्सा लेगा।

 प्रमुख मांगें
– सुप्रीम कोर्ट के अंतिम फैसले के अधीन सशर्त आरक्षण रोस्टर के अनुसार ही डीपीसी प्रारंभ हो
– कौशिक समिति रिपोर्ट आने तक वर्ष 2001 के आरक्षण रोस्टर के आधार पर ही हो सीधी भर्ती
– अन्य पिछड़ा वर्ग को शासकीय सेवा में 27 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए, प्रमोशन में भी आरक्षण मिले
– राज्य के विभिन्न विभागों में बैकलाग के  रिक्तपदों को भरने के लिए विशेष अभियान चलाया जाए
– संविदा और आउटसोर्स की नियुक्ति प्रक्रिया में आरक्षण का शत प्रतिशत अनुपालन किया जाए
– यदि सरकार आरक्षण प्रदान नहीं करती है तो ये वर्ग सामूहिक रूप से धर्म परिवर्तन पर विचार करेगा
Related Posts