ताजा खबरें >- :
 मुख्यमंत्री धामी ने कोरोना और डेंगू से बचाव की समीक्षा बैठक ली ; किया कोरोना के प्रति सचेत

 मुख्यमंत्री धामी ने कोरोना और डेंगू से बचाव की समीक्षा बैठक ली ; किया कोरोना के प्रति सचेत

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कोरोना के प्रति सचेत किया है। सोमवार को कोरोना और डेंगू से बचाव की समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने कहा कि कोरोना का प्रभाव कम जरूर हुआ है, लेकिन खत्म नहीं हुआ है। इसके लिए प्रत्येक स्तर पर एहतियात और सावधानी जरूरी है। उन्होंने इस संबंध में जनजागरूकता पर भी बल दिया। साथ ही डेंगू व मलेरिया जैसी बीमारियों की रोकथाम के लिए प्रभावी प्रयासों की जरूरत बताते हुए संबंधित विभागों और जिलाधिकारियों को समन्वय से कार्य करने के निर्देश दिए।मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कोरोना की रिकवरी दर में तेजी से सुधार हुआ है। कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण बना रहे, इसके लिए सभी को सतर्क व सजग रहना होगा। उन्होंने कोरोना संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए जारी दिशा-निर्देशों और सावधानी का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराने पर भी जोर दिया, ताकि लोग इसके प्रति बेपरवाह न बनें। उन्होंने कहा कि बरसात के बाद डेंगू व मलेरिया जैसी बीमारियों की रोकथाम के लिए साफ-सफाई, दवा आदि के छिड़काव पर ध्यान केंद्रित किया जाए।

उन्होंने डेंगू से बचाव के लिए व्यापक जनजागरण की जरूरत बताई। साथ ही अधिकारियों को निर्देश दिए कि अस्पतालों में प्लेटलेट्स की पर्याप्त उपलब्धता रहे, यह सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने नगर निकायों को समय-समय पर फागिंग कराने, स्वच्छता एवं जल निकासी पर विशेष ध्यान देने के निर्देश भी दिए। उन्होंने स्वास्थ्य से जुड़ी योजनाओं को और प्रभावी बनाने के लिए स्वास्थ्य विभाग, राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण के साथ ही निजी अस्पतालों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करने के लिए भी कहा।मुख्यमंत्री ने सभी प्राथमिक व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में जरूरी उपकरणों और संसाधनों की व्यवस्था के साथ ही हरिद्वार, रुद्रपुर व पिथौरागढ़ मेडिकल कालेजों में अवस्थापना सुविधाओं के विकास पर ध्यान देने को भी अधिकारियों से कहा। उन्होंने पीएम केयर फंड के तहत उपलब्ध कराए गए वेंटिलेटर आदि की जानकारी भी ली और इनकी स्थापना के संबंध में कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर सचिव स्वास्थ्य डा पंकज कुमार पांडेय ने प्रस्तुतीकरण के माध्यम से कोरोना की रोकथाम, वैक्सीनेशन, डेंगू, मलेरिया समेत अन्य बीमारियों से बचाव के लिए विभागीय प्रयासों की जानकारी दी।

Related Posts