ताजा खबरें >- :
उत्‍तराखंड में भी पेट्रोल-डीजल का संकट गहराने लगा

उत्‍तराखंड में भी पेट्रोल-डीजल का संकट गहराने लगा

उत्‍तराखंड में भी पेट्रोल-डीजल का संकट गहराने लगा है। राजधानी देहरादून में संचालित हो रहे हिंदुस्तान पेट्रोलियम (एचपी) के पेट्रोल डीजल के पंप पिछले तीन दिनों से खाली हैं। वहीं हरिद्वार में जिले के 208 पेट्रोल पंपों में से अधिकांश पर तेल खत्म होने के कगार पर है।देहरादून शहर में संचालित हो रहे हिंदुस्तान पेट्रोलियम (एचपी) के पेट्रोल डीजल के पंप पिछले तीन दिनों से खाली हैं। जिसकी वजह से अन्य पंपों पर वाहनों की लंबी कतार लग रही है। पंप संचालकों का कहना है कंपनी को पेट्रोल डीजल की आपूर्ति के लिए तीन गुना भुगतान भी किया जा चुका है। बावजूद सप्लाई नहीं मिल रही है।

पेट्रोल पंप एसोसिएशन के अध्यक्ष आशीष मित्तल का कहना है शहर में करीब एक दर्जन एचपी के पंप संचालित हो रहे हैं। जानकारी के मुताबिक पिछले तीन दिन से पेट्रोल, डीजल की आपूर्ति नहीं हो रही है। संचालकों से मिली जानकारी के मुताबिक अन्य राज्यों के एचपी के पंप के भी यही हाल हैं। फिलहाल आयल कंपनी सप्लाई के संबंध में कुछ भी बताने को तैयार नहीं है। शहर में संचालित हो रहे अन्य कंपनियों के पंप में वाहनों की लंबी कतार लग रही है, लेकिन अन्य कंपनियों की सप्लाई सुचारू रूप से हो रही है।

शहर के सीएनजी पंप पर सप्लाई ठप शहर में संचालित हो रहे सीएनजी पंप में पिछले पंद्रह दिन से सप्लाई ठप है। वाहन चालकों को सीएनजी के लिए शहर से बाहरी पंप का रुख करना पड़ रहा है। सहस्त्रधारा रोड स्थित सेठी पेट्रोल पंप के संचालक कुनाल सेठी का कहना है सीएनजी न मिलने का प्रमुख कारण हरिद्वार में ट्रैफिक होने से सप्लाई न होना, कम वोल्टेज होने से कम्प्रेशर मशीन का लोड नहीं उठा पाना है। इसके अलावा डिमांड के बाद भी सीएनजी की गाड़ी समय पर नहीं पहुंच पाना है। कहा आगे भी सीएनजी की सप्लाई के आसार नहीं लग रहे हैं।

हरिद्वार जिले में पेट्रोल डीजल का संकट गहरा गया है। अधिकांश पेट्रोल पंप पर तेल खत्म होने के कगार पर है वहीं लंढोरा स्थित इंडियन आयल कारपोरेशन के डिपो पर गाड़ियों की लंबी लाइन लगी हुई है। उत्तराखंड में वैसे तो पिछले कुछ दिनों से पर्वतीय जिलों में ही पेट्रोल डीजल की किल्लत की खबरें आ रही थी लेकिन अब हरिद्वार जिले में भी पेट्रोल व डीजल का संकट गहराने के आसार बढ़ गए हैं।

रविवार की शाम से जिन पेट्रोल पंप मालिकों ने डीजल व पेट्रोल की डिमांड लगाई थी उनको सोमवार दोपहर तक भी तेल नहीं मिलने के आसार हैं। जिस कारण धीरे धीरे पंप पर पेट्रोल व डीजल खत्म हो रहा है।

पेट्रोल पंप स्वामी अंकित कपूर ने बताया कि पहले डिमांड भेजने के साथ ही पेट्रोल और डीजल मिल जा रहा था, लेकिन अब यह व्यवस्था की गई है कि पहले सेल्स मैनेजर संबंधित कंपनी को मेल भेजेगा, उसके बाद ही पेट्रोल पंप को डीजल में तेल मिलेगा। बताते चलें कि हरिद्वार जिले में भारत पैट्रोलियम कारपोरेशन, हिंदुस्तान पैट्रोलियम कारपोरेशन और इंडियन आयल कारपोरेशन समेत अन्य कंपनियों के कुल 208 पेट्रोल पंप हैं।

Related Posts