ताजा खबरें >- :
देहरादून के त्यूणी में मां और बेटे ने लिया नौ वीं कक्षा में एडमिशन

देहरादून के त्यूणी में मां और बेटे ने लिया नौ वीं कक्षा में एडमिशन

रेखा ने कहा पढ़ने की कोई उम्र नहीं होत, बल्कि इंसान में सीखने का जज्बा होना चाहिए। ऐसा ही जज्बा त्यूणी निवासी एक महिला में देखने को मिला। शिक्षा विभाग के प्रवेश उत्सव कार्यक्रम से प्रेरित होकर उसने अपने बेटे के साथ राइंका त्यूणी में प्रवेश ले लिया। अब मां और बेटा दोनों एक ही कक्षा में पढ़ रहे हैं।

क्षेत्र के सरनाड़ पानी गांव निवासी रेखा ने इस सत्र कक्षा नौ में प्रवेश लिया है। इसके चलते रेखा क्षेत्रवासियों के लिए प्रेरणा का स्रोत भी बनी हुई है। 35 साल की रेखा अपने पति धर्म सिंह के साथ मेहनत मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करती है। इस सत्र अप्रैल माह में शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित प्रवेश उत्सव कार्यक्रम ने रेखा को खासा प्रेरित किया।

जिसके चलते उन्होंने स्कूल जाने की ठान ली। उन्होंने अपने पति की अनुमति के बाद राइंका त्यूणी में शिक्षा ग्रहण कर रहे अपने बच्चों के साथ स्कूल में प्रवेश ले लिया। रेखा की बेटी प्रीति स्कूल में कक्षा दसवीं और बेटा संदीप उन्हीं की कक्षा नौ में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। बच्चों के साथ स्कूल आ रही रेखा में खुशी की लहर है। रेखा ने बताया कि स्कूल में समस्त शिक्षक और छात्र उसका पूर्ण सहयोग कर रहे हैं। रेखा के अध्यापक नैन सिंह पंवार ने बताया कि रेखा ने गृह विज्ञान के स्थान पर गणित विषय में प्रवेश लिया हैए और लगातार विद्यालय आकर शिक्षा ग्रहण कर रही है। खंड शिक्षा अधिकारी डॉ. शूलचंद ने भी रेखा की प्रशंसा की। कहा कि रेखा जैसी महिला ग्रामीण और पिछड़ी महिलाओं के लिए प्रेरणा का स्रोत है। उन्होंने आदर्श विद्यालय त्यूणी के अध्यापकों और रेखा को बधाई भी दी है।

Related Posts