ताजा खबरें >- :
गंगनहर की पटरी पर ट्रांसपोर्ट व्यवसायी से कार लूट का खुलासा, दो बदमाश गिरफ्तार

गंगनहर की पटरी पर ट्रांसपोर्ट व्यवसायी से कार लूट का खुलासा, दो बदमाश गिरफ्तार

गंगनहर पटरी पर ट्रांसपोर्ट व्यवसायी जसपाल से असलहे के दम पर कार और नगदी लूट की वारदात से पर्दा उठाते हुए सीआईयू और बहादराबाद पुलिस ने दो आरोपी दबोचे हैं। कार लूट के बाद आरोपियों ने लुधियाना (पंजाब) में फाइनेंसर की दिनदहाड़े गोलियों से भूनकर हत्या कर दी थी। आरोपियों पर पंजाब पुलिस ने एक लाख का इनाम घोषित किया हुआ है। वहीं, उनकी गिरफ्तारी की सूचना मिलने पर पंजाब पुलिस ने भी बहादराबाद पुलिस से संपर्क साधा।सोमवार को बहादराबाद थाने में प्रेसवार्ता कर एसएसपी सेंथिल अबूदई कृष्णराज एस ने बताया कि 19 जनवरी को गंगनहर पटरी पर हैंडपंप पर मुंह धो रहे ट्रांसपोर्ट व्यवसायी जसपाल निवासी सुभाषनगर से बदमाशों ने असलहे के दम पर कार लूट ली थी। सोमवार को सीआईयू और बहादराबाद पुलिस को भगवानपुर की ओर से आ रही एक कार में दो संदिग्धों के होने की सूचना मिली थी।

पुलिस ने दौलतपुर गांव में डीपीएस पुलिया पर चेकिंग के दौरान पंजाब नंबर की कार रोक ली। कार सवार दो युवकों की तलाशी ली गई तो उनके कब्जे से दो पिस्टल, भारी मात्रा में कारतूस बरामद हुए। थाने लाकर पूछताछ की गई तो आरोपियों ने अपना नाम सुखविंदर उर्फ मोनी पुत्र गुरुदेव निवासी लेबर कॉलोनी दुसमल्ला लुधियाना, पंजाब और सुमित पुत्र सतपाल निवासी गांव घासरेकी थाना गागलहेड़ी जिला सहारनपुर यूपी बताया।आरोपियों ने कबूला कि उन्होंने कार 19 जनवरी को गंगनहर पटरी से लूटी थी। मौके पर छोड़ी गई बाइक क्षेत्र के शगुन वेडिंग प्वाइंट के बाहर से चोरी की थी। कार लूट के बाद हरिद्वार का नंबर हटाकर उन्होंने पंजाब नंबर की प्लेट लगा ली थी। एसएसपी ने बताया कि दोनों की मुलाकात रुड़की जेल में हुई थी।दोनों आजकल गांव जमालपुर खुर्द आरकेपुरम में किराए पर रह रहे थे। कार लूट के बाद वे लुधियाना पंजाब पहुंचे और पुरानी रंजिश के कारण सुखविंदर ने सुमित के साथ मिलकर फाइनेंसर जिद्दी की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी थी। लुधियाना पुलिस ने आरोपियों पर एक लाख का इनाम घोषित किया हुआ है। इस दौरान एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय, सीओ पूर्णिमा गर्ग मौजूद रहे।

Related Posts