ताजा खबरें >- :
कांग्रेस प्रत्याशी सतपाल ब्रह्मचारी ने मीडिया के सामने आकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक से अपनी जान को खतरा जताया

कांग्रेस प्रत्याशी सतपाल ब्रह्मचारी ने मीडिया के सामने आकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक से अपनी जान को खतरा जताया

कांग्रेस प्रत्याशी सतपाल ब्रह्मचारी ने मीडिया के सामने आकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक से अपनी जान को खतरा जताया है। सतपाल ब्रह्मचारी का कहना है कि उन्हें प्रचार करने से रोका जा रहा है। इस संबंध में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक से बात करने का प्रयास किया गया, तो पहले बताया गया कि वे रैली में व्यस्त हैं, लेकिन देर रात तक उनसे बात नहीं हो सकी।

कांग्रेस नेताओं के साथ प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत करते कांग्रेस प्रत्याशी सतपाल ब्रह्मचारी ने कहा कि मदन कौशिक ने शहर की शिक्षा, चिकित्सा व्यवस्था पर कोई ध्यान नहीं दिया है। शहर की जनता किट्टी प्रकरण और लाइब्रेरी घोटाले को भी नहीं भूली है। भाजपा नेताओं के फ्लैट से शराब मिलना इसका सबसे बड़ा प्रमाण है कि मदन कौशिक शराब व धनबल के आधार पर चुनाव प्रभावित करना चाहते हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक को अपनी हार का डर सता रहा है, इसलिए उन्हें प्रचार करने से भी रोका जा रहा है। सतपाल ब्रह्मचारी ने कहा कि भाजपा में अच्छे लोग भी हैं, लेकिन हरिद्वार में भाजपा नहीं, बल्कि मदन जनता पार्टी है। आरोप लगाया कि मदन कौशिक ने अपने नामांकन पत्र में करोड़ों की पत्नी के नाम दर्ज संपत्तियां छिपाई हैं। जिसके प्रमाण भी उनके पास हैं। उन्होंने चुनाव आयोग व पुलिस प्रशासन से कार्रवाई की मांग की। इस दौरान राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष संतोष चौहान, महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष विमला पांडेय, अरविंद शर्मा, पूर्व सभासद संजय शर्मा, पूर्व दर्जाधारी नईम कुरैशी, कांग्रेस नेता धर्मपाल ठेकेदार आदि मौजूद रहे।

कांग्रेस ने फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार को आचार संहिता के दौरान राज्य का ब्रांड एंबेसडर बनाने की घोषणा का विरोध किया है। साथ ही इस आयोजन के लिए मुख्यमंत्री आवास के प्रयोग पर भी सवाल उठाए हैं। कांग्रेस ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग से की है। प्रदेश कांग्रेस की वरिष्ठ उपाध्यक्ष आशा मनोरमा डोबरियाल शर्मा ने मंगलवार को मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा व मुख्य निर्वाचन अधिकारी उत्तराखंड सौजन्या को ईमेल के जरिये शिकायत भेजी। आरोप लगाए कि बीते सोमवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की ओर से विधानसभा चुनाव के दौरान सरकारी आवास में अभिनेता अक्षय कुमार को ब्रांड एंबेसडर बनाया जाना आचार संहिता का उल्लंघन है। मुख्यमंत्री और अक्षय की फोटो मीडिया व इंटरनेट मीडिया में जारी की गई।

 

Related Posts