ताजा खबरें >- :
सबसे अधिक तापमान देहरादून में सामान्य से सात डिग्री अधिक 41.3 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड;

सबसे अधिक तापमान देहरादून में सामान्य से सात डिग्री अधिक 41.3 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड;

प्रदेश के मैदानी क्षेत्रों में प्रचंड गर्मी ने बेहाल किया हुआ है। मौसम विज्ञान केंद्र देहरादून के मुताबिक आने वाले चौबीस घंटे में मैदानी क्षेत्रों में गर्मी से राहत मिलने के आसार नहीं हैं। केवल पर्वतीय जिलों में कहीं-कहीं गर्जन के साथ हल्की बारिश की संभावना जताई गई है।सोमवार को प्रदेश में सबसे अधिक तापमान देहरादून में सामान्य से सात डिग्री अधिक 41.3 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। हरिद्वार, रुड़की व उधमसिंहनगर में भी पारा 40 डिग्री सेल्सियस के आसपास रिकार्ड किया गया।

मौसम विज्ञान केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह के मुताबिक 15 जून शाम से प्रदेश में मौसम के करवट बदलने और गर्जन के साथ बारिश होने की संभावना है। मौसम विभाग की ओर से पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की संभावना जताई गई है। बारिश और ओलावृष्टि होने के बाद प्रदेश के अधिकतम तापमान में कुछ कमी आने की संभावना है।

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रुड़की के जल संसाधन विकास एवं प्रबंधन विभाग में संचालित ग्रामीण कृषि मौसम सेवा परियोजना से मिली जानकारी के अनुसार 15 जून के बाद प्री-मानसून की बरसात होने की संभावना है।रुड़की में प्रचंड गर्मी में कूलर-एसी फेल हो रहे हैं। क्योंकि भीषण गर्मी पड़ने के कारण जहां शहर का तापमान सामान्य से तीन-चार डिग्री अधिक बना हुआ है। वहीं शहर और आसपास के क्षेत्रों में सुबह से लेकर रात तक रुक-रुककर बिजली कटौती का सिलसिला चल रहा है।

ऐसे में बिजली ठप होते ही कूलर-एसी बंद पड़ रहे हैं और आग उगलती गर्मी शहरवासियों को पस्त कर रही है।जून के महीने में आसमान से धूप के रूप में आग बरस रही है। एक ओर चिलचिलाती धूप खिल रही है तो वहीं लू के थपेड़े चल रहे हैं। जिस वजह से नागरिकों का हाल बेहाल हो रहा है। दिनभर लोग पसीना-पसीना हो रहे हैं और दो कदम चलते ही राहगीरों के हलक सूख रहे हैं।

गला तर करने के लिए तरल पेय पदार्थों की दुकानों पर नागरिकों की भीड़ देखने को मिल रही है। वहीं बिजली कटौती की समस्या भी नागरिकों को रुला रही है। गर्मी के सीजन में शहर और आसपास के क्षेत्रों में बिजली कटौती की समस्या काफी बढ़ गई है। आलम यह है कि सुबह से लेकर रात तक थोड़े-थोड़े अंतराल के बाद बिजली गुल हो रही है। साथ ही लो वोल्टेज की समस्या भी बढ़ गई है। ऐसे में कूलर-एसी भी ठप पड़ रहे हैं। जिस कारण जनता का जीना मुहाल हो गया है।सोमवार को शहर का अधिकतम तापमान 40.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। जो सामान्य से 3.6 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा। जबकि न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। जो सामान्य से 1.7 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा।

 

Related Posts