ताजा खबरें >- :
कोरोना संक्रमण के कारण चारधाम और अन्य पर्यटक स्थलों परेशानी झेल रहे पर्यटन व्यवसाय को सरकार ने बड़ी राहत दी

कोरोना संक्रमण के कारण चारधाम और अन्य पर्यटक स्थलों परेशानी झेल रहे पर्यटन व्यवसाय को सरकार ने बड़ी राहत दी

कोरोना संक्रमण के कारण चारधाम और अन्य पर्यटक स्थलों के बंद होने के कारण परेशानी झेल रहे पर्यटन व्यवसाय से जुड़े व्यक्तियों को सरकार ने बड़ी राहत दे दी है। उत्तरकाशी के दौरे पर आए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने होटल, परिवहन, पोर्टर समेत पर्यटन की अन्य गतिविधियों से जुड़े व्यवसायियों के साथ ही सांस्कृतिक दलों के लिए लगभग 200 करोड़ रुपये के आर्थिक राहत पैकेज का एलान किया। इससे प्रदेशभर में 163661 लोग लाभान्वित होंगे। लाभार्थियों को सहायता राशि सीधे उनके बैंक खातों में भेजी जाएगी।

मुख्यमंत्री धामी ने यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि चारधाम यात्रा और पर्यटन राज्य की आर्थिकी का मुख्य आधार हैं। पर्यटन और चारधाम यात्रा से हर तरह का व्यवसायी किसी न किसी रूप से जुड़ा है। कोरोना संक्रमण के कारण चारधाम यात्रा और पर्यटन गतिविधियां बुरी तरह प्रभावित हुई है। इसे देखते हुए पर्यटन से जुड़े व्यक्तियों को राहत देने के लिए सरकार ने ‘कोविड-19 राहत पैकेज-2021’ की व्यवस्था की है। इससे पर्यटन के क्षेत्र में कार्य करने वालों को मदद मिलने के साथ ही राज्य की आर्थिकी में भी तेजी आएगी। इस मौके पर कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी, भाजपा जिलाध्यक्ष रमेश चौहान आदि मौजूद थे।

  • पर्यटन समेत अन्य विभागों में पंजीकृत पर्यटन व्यवसाय की गतिविधियों से जुड़े 50 हजार व्यक्तियों को छह माह तक दो हजार रुपये प्रतिमाह की आर्थिक सहायता
  • सार्वजनिक वाहनों के 1.32 लाख चालक, परिचालक, क्लीनर को दो हजार की मासिक दर से छह माह तक आर्थिक राशि
  • पंजीकृत 655 टूर और एडवेंचर टूर आपरेटरों और 630 रिवर गाइड को 10-10 हजार रुपये की सहायता
  • टिहरी झील के 93 बोट संचालकों को 10 हजार की दर से आर्थिक सहायता और लाइसेंस नवीनीकरण में छूट
  • पर्यटन विभाग में पंजीकृत 600 गाइड, ट्रैकिंग संचालकों को लाइसेंस नवीनीकरण शुल्क में छूट।
  • पंजीकृत 301 राफ्टिंग एवं एयरो स्पोट्र्स सेवा प्रदाताओं को लाइसेंस नवीनीकरण शुल्क में छूट
  • नैनी झील, नौकुचियाताल, भीमताल, सातताल एवं सडियाताल के 549 बोट संचालकों को 10 हजार की दर से आर्थिक सहायता और नवीनीकरण शुल्क में छूट
  • सांस्कृतिक दलों के 6500 कलाकारों को दो हजार प्रतिमाह की दर से पांच माह तक आर्थिक सहायता
  • वन विभाग के अंतर्गत ट्रैकिंग और पीक फीस पर छूट
  • वीर चंद्र सिंह गढ़वाली योजना व दीनदयाल उपाध्याय होमस्टे योजना में ऋण पर छह माह के लिए ब्याज प्रतिपूर्ति
Related Posts