बैठक में बताया गया कि अमृत महोत्सव की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 12 मार्च को थी। इस महोत्सव के तहत 15 अगस्त को भी विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाना है। इसके लिए मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में समिति का गठन किया गया है, जो सभी कार्यक्रमों को मार्गदर्शन देने के साथ ही देख-रेख करेगी। इसके लिए प्रत्येक जिले का कार्यक्रम कैलेंडर भी जारी किया गया है। बैठक में सचिव एचसी सेमवाल व निदेशक संस्कृति बीना भट्ट भी उपस्थित थीं।