ताजा खबरें >- :
दून महिला अस्पताल में बच्चे बदलने वाला मामला, डीएनए रिपोर्ट में सामने आया सच

दून महिला अस्पताल में बच्चे बदलने वाला मामला, डीएनए रिपोर्ट में सामने आया सच

देहरादून के दून महिला अस्पताल में हुए चर्चित बच्चे बदलने वाले मामले में सच सामने आ गया है। डीएनए जांच रिपोर्ट में साबित हो गया कि दोनों परिवारों के पास अपने-अपने बच्चे हैं
पुलिस शुक्रवार को दोनों परिवारों को बुलाकर डीएनए रिपोर्ट सौंपेगी।

बता दें कि दून महिला अस्पताल में 5 मार्च को एक ही नाम की दो महिलाओं का प्रसव हुआ था। जिनमें अनिल की पत्नी आरती और उमेश शाह की पत्नी आरती ने बच्चे को जन्म दिया। उमेश शाह की लड़की हुई थी जिसकी नाजुक होने के चलते नर्स ने निक्कू वार्ड में भर्ती करा दिया था।

शाम को शाह दंपति बच्चा लेने पहुंची तो उन्होंने लड़की देखकर हंगामा शुरू कर दिया। उनका आरोप था कि अस्पताल कर्मियों ने साठगांठ कर उनका बच्चा बदल दिया है। सुबह उन्हें बेटा होना बताया गया था। शाह दंपति ने धारा चौकी पर अस्पताल प्रशासन के खिलाफ तहरीर भी दे दी।

विवाद ज्यादा बढ़ने पर बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष ऊषा नेगी ने हस्तक्षेप कर पुलिस को न्यायोचित कार्रवाई के निर्देश दिए। जिसके बाद डीएनए टेस्ट कराने के लिए दोनों नवजातों और उनके माता-पिता के सैंपल जांच के लिए फॉरेंसिक जांच लैब (एफएएल) भेजे गए थे।

अब डीएनए रिपोर्ट सामने आने के बाद मामला सुलझ जाएगा, डीएनए रिपोर्ट से यह साबित हो गया है कि बच्ची उमेश शाह और उनकी पत्नी आरती की है। जबकि बेटा अनिल की पत्नी आरती का है। दोनों बच्चे पहले से ही अपने असली माता-पिता के पास हैं। शुक्रवार को दोनों परिवारों को बुलाकर डीएनए रिपोर्ट से अवगत करा दिया जाएगा।

Related Posts