ताजा खबरें >- :
मुख्यमंत्री धामी से अनुमोदन के बाद शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल से बैठक कर स्मार्ट सिटी की सीईओ सोनिका ने इसका आदेश जारी किया

मुख्यमंत्री धामी से अनुमोदन के बाद शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल से बैठक कर स्मार्ट सिटी की सीईओ सोनिका ने इसका आदेश जारी किया

मंत्री अग्रवाल ने बताया कि स्मार्ट सिटी के तहत आउटफाल व इंटिग्रेटेड सीवरेज एंड ड्रेनेज योजना के कामों के लिए नामित ब्रिज एंड रूफ कंपनी के काम संतोषजनक नहीं पाए गए।देहरादून में स्मार्ट सिटी के कामों में हीलाहवाली पर सरकार ने एक और कंपनी ब्रिज एंड रूफ को हटा दिया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से अनुमोदन के बाद शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल से बैठक कर स्मार्ट सिटी की सीईओ सोनिका ने इसका आदेश जारी किया। इससे पहले एचएससीएल कंपनी को सरकार ने हटाया था।

मंगलवार को शहरी विकास व आवास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने स्मार्ट सिटी की सीईओ सोनिका के साथ बैठक की। बैठक के बाद मंत्री अग्रवाल ने बताया कि स्मार्ट सिटी के तहत आउटफाल व इंटिग्रेटेड सीवरेज एंड ड्रेनेज योजना के कामों के लिए नामित ब्रिज एंड रूफ कंपनी के काम संतोषजनक नहीं पाए गए।इस संबंध में पहले भी कई बार बैठक लेकर कंपनी को निर्देश दिए गए। मंत्री ने 29 जुलाई को मौके पर निरीक्षण किया था और अपेक्षाकृत काम न होने पर कड़ी चेतावनी दी थी। मंत्री अग्रवाल ने बताया कि सीवरेज और ड्रेनेज का काम निम्न गुणवत्ता का पाया गया।

अग्रवाल ने बताया कि इसी तरह स्मार्ट सिटी के तहत स्मार्ट रोड परियोजना में भी नामित संस्था ब्रिज एंड रूफ के काम संतोषजनक नहीं थे। सीवरेज और ड्रेनेज का काम अब पेयजल एवं सिंचाई विभाग करेगा जबकि स्मार्ट रोड परियोजना में पीडब्ल्यूडी को नामित किया है। उन्होंने जल्द ही यह काम शुरू करने के निर्देश दिए। गौरतलब है कि इससे पहले स्मार्ट सिटी के कामों में धीमी गति पर हिंदुस्तान स्टील वर्क्स कंस्ट्रक्शन लिमिटेड (एचएससीएल) को सरकार ने हटाया था।

Related Posts