ताजा खबरें >- :
फीस कमेटी ने सरकार को सौंपी अपनी रिपोर्ट सरकारी महाविद्यालयों में नहीं बढ़ेगी फीस

फीस कमेटी ने सरकार को सौंपी अपनी रिपोर्ट सरकारी महाविद्यालयों में नहीं बढ़ेगी फीस

प्रदेश के विभिन्न सरकारी महाविद्यालयों में पढ़ने वाले एक लाख से अधिक छात्र-छात्राओं के लिए नए साल में राहत की खबर है। फिलहाल उनकी फीस में कोई बढ़ोतरी नहीं की जाएगी। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ.धन सिंह रावत के मुताबिक फीस कमेटी ने सरकार को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है।

सरकार की ओर से निर्णय लिया गया है कि फीस में कोई वृद्धि नहीं होगी। विधानसभा स्थित कार्यालय कक्ष में उच्च शिक्षा विभाग की बैठक लेते हुए उच्च शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि महाविद्यालयों में छात्र-छात्राओं से ली जाने वाली फीस की 31 मदों को अब 11 मदों में तब्दील कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा निदेशक को फीस कमेटी की रिपोर्ट के अध्ययन के लिए कहा गया है।

वहीं, फरवरी में अभिभावक संघ, छात्र संघ और प्राचार्यों के साथ बैठक कर फीस की कई मदों को मिलाकर महाविद्यालय विकास निधि बनाने पर विचार किया जाएगा। उच्च शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि छात्रों, अभिभावकों और महाविद्यालयों से सुझाव मिलने के बाद ही फीस को लेकर कोई निर्णय लिया जाएगा, लेकिन फिलहाल इसमें एक भी रुपये की वृद्धि नहीं होगी।

छात्र-छात्राओं से पूर्व में ली जा रही फीस ही बरकरार रहेगी। बैठक में उच्च शिक्षा निदेशक प्रोफेसर एनपी माहेश्वरी, अध्यक्ष फीस कमेटी डॉ.बीएस बिष्ट, प्राचार्य बीएन शर्मा, रचना नौटियाल, डीसी गोस्वामी, कुमकुम रौतेला, एमएस रावत, केडी पुरोहित, डॉ.पीके पाठक आदि मौजूद रहे।
Related Posts