ताजा खबरें >- :
कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते चुनाव आयोग ने 15 जनवरी तक सभी तरह के आयोजनों पर रोक लगाई

कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते चुनाव आयोग ने 15 जनवरी तक सभी तरह के आयोजनों पर रोक लगाई

कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते चुनाव आयोग ने 15 जनवरी तक सभी तरह के आयोजनों पर रोक लगाई है। इसके बावजूद नियमों के उल्लंघन की शिकायत पर कांग्रेस नेता सुमित हृदयेश व कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत के जनसंपर्क अधिकारी समेत तीन अन्य को चुनाव आयोग ने नोटिस भेजा है।हल्द्वानी के रिटर्निंग आफिसर के अनुसार कांग्रेस पब्लिसिटी अध्यक्ष सुमित हृदयेश ने बाजार क्षेत्र में सामूहिक रूप से इंदिरा विकास संकल्प यात्रा की गई। आदर्श आचार संहिता लागू होने के बाद बिना अनुमति के यात्रा की गई जबकि कोविड-19 के दिशा-निर्देशों के तहत भी सार्वजनिक आयोजनों की 16 जनवरी तक अनुमति नहीं है। इसके लिए 24 घंटे के भीतर स्पष्टीकरण देने का नोटिस दिया है।

कालाढूंगी के रिटर्निंग आफिसर के अनुसार इंटरनेट मीडिया से पता चला है कि कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत ने विजयपुर धमोला में शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया था। इसमें कई कार्यकर्ता शामिल हुए थे। इसके लिए विज्ञप्ति जारी करने पर जनसंपर्क अधिकारी अमन वर्मा को नोटिस भेजा गया है। हल्द्वानी के रिटर्निंग आफिसर के अनुसार उत्तराखंड कोआपरेटिव फेडरेशन के प्रशासक नियुक्त होने पर नैनीताल दुग्ध संघ अध्यक्ष मुकेश बोरा का स्वागत किया गया।इसमें संगठन के पदाधिकारी व अन्य शामिल हुए। कार्यक्रम के दौरान शारीरिक दूरी का पालन नहीं किया गया। कई लोगों ने मास्क भी नहीं पहना था। इसके लिए डेयरी के सहायक निदेशक को नोटिस भेजा है। इसके अलावा आम आदमी पार्टी के जिलाध्यक्ष संतोष कबडवाल व भाजपा नेता कमलेश चंदोला को भी चुनाव आयोग ने आदर्श आचार संहिता व कोविड नियमों के उल्लंघन पर नोटिस थमाया है।

 

Related Posts