ताजा खबरें >- :
उत्तराखंड में निर्यात नीति जल्द होगी  लागू :  मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत..

उत्तराखंड में निर्यात नीति जल्द होगी लागू : मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत..

उत्तराखंड सरकार प्रदेश में जल्द ही निर्यात नीति लागु करने जा रही है जिसमे निर्यात को बढ़ावा देने पर विशेष प्रयास किए जाएंगे। सीएम त्रिवेंद्र रावत ने कहा है कि उत्तराखंड में ग्रोथ सेंटर के जरिए कृषि उत्पादों के निर्यात की अपार संभावना है, सरकार निर्यात को बढ़ावा देने के लिए यातायात की सुविधा बढ़ाने पर विशेष जोर दे रही है।
शुक्रवार को प्रस्तावित निर्यात नीति पर चर्चा करते हुए आयोजित वर्कशॉप को संबोधित करते हुए सीएम त्रिवेंद्र रावत ने कहा कि उत्तराखंड में सर्विस सेक्टर और कृषि उत्पादों की प्रोसेसिंग पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इसी क्रम में अब तक 58 ग्रोथ सेंटर खुल चुके हैं। जबकि पचास के करीब और जल्द शुरू हो जाएंगे।
उन्होंने बताया कि उत्तराखंड की विशेषताओं के अनुरूप हर जिले में एक विशेष क्लस्टर तैयार कर निर्यात को बढ़ाए जाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए सरकार यातायात के साधनों को भी तेजी से विकसित कर रही है। जौलीग्रांट, पंतनगर, पिथौरागढ़ हवाई अड्डों का विस्तार चल रहा है। इसी तरह गौचर हवाई पट्टी का भी विस्तार किया जाना है, लेकिन यहां पहाड़ कटान से मलबा अलकनंदा नदी में गिरने की भी आशंका है, इस समस्या का समाधान तलाश जा रहा है। उन्होंने कहा कि चौखुटिया में हवाई पट्टी का प्रारंभिक सर्वे हो चुका है। इसी तरह ऑल वेदर और अन्य सड़क परियोजनाओं के जरिए प्रदेश में सड़क सुविधाओं का भी अच्छा नेटवर्क तैयार होने जा रहा है।

इससे पूर्व प्रमुख सचिव मनीषा पंवार ने कहा कि बीते वित्तीय वर्ष में प्रदेश का निर्यात 16 हजार करोड़ का रहा, जो इसके पिछले साल नौ हजार करोड़ रुपए ही था। निर्यात को बढ़ावा देने के लिए सरकार सिंगल विंडो सिस्टम, ईज ऑफ डूइंग बिजनेस जैसे कई पहल कर चुकी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति अच्छी है, बिजली- पानी की उपलब्धता भी सस्ती है। इसलिए यहां उद्यमियों के लिए अच्छे अवसर हैं। इससे पूर्व एफआईईओ के डायरेक्टर प्रशांत सेठ ने उत्तराखंड की निर्यात नीति की विशेषताएं वयक्त करते हुए बताया कि राज्य में लघु और सूक्ष्म उद्यम शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। कार्यशाला के दूसरे सत्र में उद्यमियों और विषय विशेषज्ञों ने अपने सुझाव दिए । इस मौके पर सचिव एल फेनई, भाजपा प्रांतीय महामंत्री अनिल गोयल शामिल हुए। संचालन निदेशक उद्योग सुधीर नौटियाल ने किया।

 

Related Posts