ताजा खबरें >- :
नीति माणा क्षेत्र की भोटिया जनजाति के व्यक्तियों के शीतकालीन पड़ाव में भूमिधरी हक

नीति माणा क्षेत्र की भोटिया जनजाति के व्यक्तियों के शीतकालीन पड़ाव में भूमिधरी हक

नीति माणा क्षेत्र की भोटिया जनजाति के व्यक्तियों के शीतकालीन पड़ाव में भूमिधरी हक दिलाने को प्रदेश सरकार ने अहम कदम आगे बढ़ाया है। संसदीय कार्य मंत्री मदन कौशिक ने जिलाधिकारी चमोली को भोटिया जनजाति के भोटिया पड़ाव सहित अन्य शीतकालीन पड़ाव में भूमिधरी हक दिलाने को पहले आपसी समन्वय बनाने को कहा है, ताकि भूमिधरी हक देते समय इनके बीच आपसी विवाद न उत्पन्न हों।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष और विधायक प्रीतम सिंह ने शुक्रवार को कार्य स्थगन प्रस्ताव के जरिये भोटिया जनजाति के व्यक्तियों के शीतकालीन प्रवास में भूमिधरी हक देने का मसला उठाया। उन्होंने कहा कि नीति व माणा में रहने वाले निवासी दशकों से शीतकालीन प्रवास के लिए नीचे उतर आते हैं। यहां इनके पक्के आवास भी हैं। प्रदेश सरकार द्वारा हाल ही में संक्रमणीय भूमिधर और वर्ग चार की भूमि पर काबिज व्यक्तियों को भूमिधर हक दिया गया, लेकिन भोटिया समुदाय के व्यक्तियों को यह हक नहीं दिया। अब कर्णप्रयाग के निकट रेल लाइन के लिए भूमि अधिग्रहण किया जा रहा है। यहां से इन्हें हटाया जा रहा है और मुआवजा भी नहीं मिल रहा है। इससे उनके सामने खासी परेशानियां आ रही हैं। सरकार का पक्ष रखते हुए संसदीय कार्य मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि जहां ये लोग प्रवास करते हैं, वह स्थान भोटिया पड़ाव के नाम से राजस्व रिकार्ड में दर्ज है। दिक्कत यह आ रही है कि यहां इस बात पर आपसी सामंजस्य नहीं बन पा रहा है कि किसके पास कहां, कितनी जमीन है। इसके निदान के लिए जिलाधिकारी चमोली को निर्देशित किया जाएगा कि वह बात कर आपसी सामंजस्य बनाएं। जैसे ही सामजंस्य बनेगा, वह इससे शासन को अवगत कराएंगे। इसके बाद सरकार पूरी जानकारी लेकर उचित निर्णय लेगी।

कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि पुरोला विधानसभा क्षेत्र में प्रदेश सरकार प्राथमिकता के आधार पर विशेषज्ञ चिकित्सकों की नियुक्ति करेगी। संसदीय कार्य मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि सरकार ने प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं का दायरा बढ़ाया है। अभी 763 नए चिकित्सकों की तैनाती की जा रही है। नर्सों की भर्ती पर काम चल रही है। पुरोला विधानसभा के अंतर्गत पुरोला, नौगांव और मोरी में चिकित्सक, फार्मासिस्ट व रेडियोलाजिस्ट तैनात हैं। इससे पहले विधायक राजकुमार ने पुरोला, नौगांव व मोरी में विशेषज्ञ चिकित्सक न होने का मामला उठाते हुए कहा था कि महिला विशेषज्ञ चिकित्सक न होने के कारण क्षेत्र में प्रसूताओं की मौतें हो रही हैं। यहां विशेषज्ञ चिकित्सक तैनात किए जाएं।वन मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ट्रेकिंग को लगातार बढ़ावा दे रही है। इस कड़ी में लगातार नए ट्रेकिंग रूट भी खोले जा रहे हैं। एडवेंचर टूर के लिए स्थानीय कंपनियों के साथ ही विदेशी कंपनियों को भी टूर कराने की अनुमति दी गई है। उन्होंने कहा कि स्थानीय टूर कंपनियों के हितों का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा नौ मार्च को होने वाली बैठक में स्थानीय टूर आपरेट के हितों को सुरक्षित करने पर भी चर्चा की जाएगी। इससे पहले कार्य स्थगन प्रस्ताव लाते हुए निर्दलीय विधायक प्रीतम पंवार ने कहा कि कहा कि टूर आपरेटर के रूप में जिला प्रशासन ने देश-विदेश के टूर आपरेटर को अनुमति प्रदान की है। इससे स्थानीय टूर आपरेटरों में आक्रोश है।

Related Posts