ताजा खबरें >- :
बेब मीडिया के लिए बने आचार संहिता

बेब मीडिया के लिए बने आचार संहिता

उत्तराखंड मीडिया :मौजूदा समय में बेब मीडिया की भूमिका कितनी महत्वपूर्ण है इस बात को सभी जानते है लेकिन इस क्षेत्र में काम कर रहे पत्रकार उपेक्षा का दंश झेल रहे है ।  ये बात देहारादून में हुई बेब मीडिया से जुड़े पत्रकारों की बैठक में खुलकर सामने आई । संभवत:उत्तराखंड वो पहला राज्य है जहां पर पोर्टल को भी सूचना विभाग में सूचीबद्ध किया गया है यानि की सोशल मीडिया के लिय भी नीति बनाई गई है । लेकिन पिछले लंबे समय से बेब मीडिया को सरकार की तरफ से किसी भी तरह की मदद नहीं मिल पाई है ।

देहारादून के एक होटल में हुई बेब मीडिया से जुड़े दर्जनों पत्रकारो की मौजूदगी में इस बात पर भी चर्चा हुई की उत्तराखंड में सोशल मीडिया के लिए नीति बनने के बाद कई लोगों ने इसे कमाई का जरिया बनाने की कोशिश की है । जिनका पत्रकारिता से कोई लेना देना नहीं है वो भी पोर्टल खोल कर बैठे है ऐसे में पत्रकारिता की साख को भी बट्टा लग रहा है । पत्रकारो ने एकमत होकर  इस बात को स्वीकार किया की अब बेब मीडिया के लिए संगठन की आचार संहिता बनाई जानी जरूरी है । इस कार्य में सरकार का सहयोग भी लिया जा सकता है । उत्तराखंड के हितों के लिए सभी ने इसे जरूरी बताया । पत्रकारों ने कहा की सोशल मीडिया के जरिये लोगों को सबसे पहले खबर मिलती है ऐसे में अपने पाठकों का विश्वास बनाए रखने की ज़िम्मेदारी  और ज्यादा बढ़ जाती है । खबरों का बेबाकपन और सच्चाई ही बेब मीडिया को खास पहचान दिला सकता है । इसके लिए सभी को सजग होकर कार्य करना होगा ।इस मौके पर तय किया गया की जल्द ही बेब मीडिया से जुड़े पत्रकार संगठन और अन्य मुद्दों को लेकर एक सम्मेलन करेंगे ।

Related Posts