ताजा खबरें >- :

हिमखंड पिघलने की एक घटना सामने आई जो कि कैमरे में कैद हो गई और अब यह वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल

उत्तराखंड में लगातार चढ़ रहा पारा परेशानी का सबब बनता जा रहा है। मैदानी इलाकों के साथ ही अब पहाड़ी इलाकों में भी भीषण गर्मी का प्रकोप दिखाई दे रहा है। गर्मी से हिमखंडों का पिघलना शुरू हो गया है।ऐसा ही कुछ चमोली जिले में देखने को मिला। जहां हिमखंड पिघलने की एक घटना सामने आई जो कि कैमरे में कैद हो गई और अब यह वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रही है।

इस वीडियो में हेमकुंड यात्रा मार्ग पर काकभुशंडी के पहाड़ों में हिमखंड पिघलकर नाले में बहने की तस्वीरें कैद हुई है। हेमकुंड यात्रा मार्ग पर यात्रा तैयारियों में लगे गुरूद्वारा श्री हेमकुंड साहेब मैनेजमेंट ट्रस्ट के मुख्य प्रबंधक सेवा सिंह ने इसका वीडियो भी बनाया है।वीडियो में हेमकुंड साहिब यात्रा मार्ग पर भ्यूंडार के पास हिमखंड पिघल के बह रहे हैं और ऐसे लग रहे हैं मानों बर्फ नदी बह रही है। सेवा सिंह का कहना है कि कहा कि इस क्षेत्र में हिमखंड का नदी की तरह बहना आम बात है।

वहीं मौसम विभाग के मुताबिक आज बुधवार से प्रदेश में मौसम करवट बदल सकता है। पर्वतीय क्षेत्रों में कहीं-कहीं गरज के साथ बौछार और ओलावृष्टि हो सकती है। जबकि, मैदानों में अंधड़ की आशंका है।उत्तराखंड में मंगलवार यानी 19 अप्रैल का दिन अब तक इस सीजन का सबसे गर्म दिन रहा। जबकि बीते 13 वर्षों में यह अप्रैल सबसे गर्म बीत रहा है। ज्यादातर मैदानी इलाकों में पारा 40 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया है। रुड़की, हरिद्वार, कोटद्वार, रुद्रपुर और काशीपुर में तापमान 13 साल बाद 40 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंचा है।

Related Posts