ताजा खबरें >- :
ईमानदार पहाडी अफसर पर उंगली उठाने वाले तुम होते कौन हो

ईमानदार पहाडी अफसर पर उंगली उठाने वाले तुम होते कौन हो

अधिकारियों का एक विभाग से दुसरे विभाग में जाना कोई नई बात नहीं है ये एक प्रशासनिक फेरबदल है  लेकिन उत्तराखंड के सूचना महानिदेशक डॉ. मेहरबान सिहं बिष्ट की जगह दुसरे अधिकारी को क्या लाया गया की मीडिया में भूचाल आ गया ..खासतौर पर एक ऐसा तबका सकृय हो गया जिसका उत्तराखंड के सरोकारों से कोई लेना देना नहीं है .अरे भाई सूचना विभाग में डीजी पहली बार बदला गया है क्या …जो तुम इतनी खुशी मना रहे हो ..एक ईमानदार अधिकारी को केवल इसलिये बदनाम कर रहे हो की उन्होंने चीजों को सुधारने की कोशिश की .या इसलिये की वो पहाड से है .पत्रकारिता के नाम पर वर्षों से  उत्तराखंड के लोगों को छलने वाले ये तथाकथित दलाल आज एक ईमानदार पहाडी अफसर पर उंगली उठा रहे है ..जानबूझ कर उनके खिलाफ एक मुहिम चलाकर उन पर झुठे आरोप लगा कर उन्हे बदनाम करने की कोशिश कर रहा है .लेकिन उत्तराखंड के लोग इन दलालों के हथ कंडों को अच्छी तरह से समझते है.

जानबूझ कर एक चैनल को विज्ञापन देने के आरोप उन पर लगाये जा रहे है जबकि हकीकत ये है की सूचना विभाग में 25 चैनल सूचीबध्द है और इन सभी को विभागीय दरों पर विज्ञापन दिये जाते है .ये तो सालों से दिये जा रहे है रुटीन प्रक्रिया है क्या आज से पहले सूचना विभाग ने विज्ञापन नहीं दिये ….फिर इतना हंगामा क्यूं ….सिर्फ इसलिये की उन्होंने कुछ नया और बेहतर करने की कोशिश की .हर अच्छा अधिकारी विभाग में अपना बैस्ट देने की कोशिश करता है .बडे दुख की बात है की इन तथाकथित मीडिया के दलालों की पोस्ट को बिना पढे कई लोग फ़ॉरर्वड कर रहे है ..

 

Related Posts