ताजा खबरें >- :
मुख्य विकास अधिकारी ने आईआरएस सिस्टम से जुड़े अधिकारियों को संभावित आपदा के दौरान उनके दायित्वों के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

मुख्य विकास अधिकारी ने आईआरएस सिस्टम से जुड़े अधिकारियों को संभावित आपदा के दौरान उनके दायित्वों के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

देहरादून – जिलाधिकारी सोनिका के निर्देशों के क्रम में मुख्य विकास अधिकारी झरना कमठान की उपस्थिति में औद्योगिक आपात स्थिति पर मॉक अभ्यास के आयोजन से सम्बन्धित टेबल टॉप अभ्यास बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान औधोगिक क्षेत्र में घटित होने वाली संभावित आपदाओं से बचाव एवं तत्काल राहत कार्य शुरू करते हुए जन एवं पशु हानि को किस तरह कम किया जाए के संबंध में चर्चा की गई। साथ ही अन्य स्थानों पर औधोगिक क्षेत्रों में घटित हुई घटनाओं का संज्ञान लेते हुए पूर्व में ही सुरक्षा उपाय विकसित किए जाने पर मंथन किया गया।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने आईआरएस सिस्टम से जुड़े अधिकारियों को संभावित आपदा के दौरान उनके दायित्वों के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए। औद्योगिक आपात स्थिति से निपटने की तैयारियों के संबंध में मॉक अभ्यास का आयोजन किया जाए। इस अवसर पर जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी द्वारा जनपद के आईआरएस सिस्टम के संबंध में उपस्थित अधिकारियों एवं कार्मिकों को प्रजैन्टेशन के माध्यम से जानकारी दी।

बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन डॉ0 शिव कुमार बरनवाल, उप जिलाधिकारी ऋषिकेश नदंन कुमार, विकासनगर विनोद कुमार, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण कमलेश उपाध्याय, प्रयोजना निदेशक ग्राम्य विकास अभिकरण आरसी तिवारी, एसीजीडी एनडीआरएफ अजय पंत व डीसी/जीडी रविशकंर बधानी, मुख्य कोषाधिकारी रोमिल चौधरी, जिला विकास अधिकारी सुशील मोहन डोभाल, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 दिनेश चौहान, जिला कमाण्डेंट होमगार्ड डॉ0 राहुल सचान, सहायक निदेशक सूचना बीसी नेगी, जिला पूर्ति अधिकारी विपिन कुमार, जिला पंचायतीराज अधिकारी एम.एम खान, निरीक्षक एनडीआरएफ अरविन्द कुमार व मंयक कुमार, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी डॉ0 दीपशिखा रावत सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Posts