ताजा खबरें >- :
नंदा देवी राज जात पूर्व पीठिका समिति की ओर से स्व. राजरानी की पुण्यतिथि के उपलक्ष्य में कार्यक्रम आयोजित

नंदा देवी राज जात पूर्व पीठिका समिति की ओर से स्व. राजरानी की पुण्यतिथि के उपलक्ष्य में कार्यक्रम आयोजित

देहरादून – नंदा देवी राज जात पूर्व पीठिका समिति ने प्रदेश की 15 महिलाओं को इस वर्ष के नंदा देवी वीरता सम्मान से नवाजा गया है। नंदा देवी राज जात पूर्व पीठिका समिति की ओर से स्व. राजरानी की पुण्यतिथि के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में यह सम्मान केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री प्रतिमा भौमिक ने दिए। मंगलवार को विधानसभा स्थित प्रकाश पंत भवन में नंदा देवी वीरता सम्मान समारोह की शुरुआत केंद्रीय राज्यमंत्री प्रतिमा भौमिक, विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण, कैबिनेट मंत्री चंदन रामदास, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट, अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष जीएस मर्तोलिया और दून विवि की कुलपति प्रो. सुरेखा डंगवाल ने की।कार्यक्रम में शहीद मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल की माता सरिता ढौंडियाल, शहीद मेजर चित्रेश बिष्ट की माता रेखा बिष्ट के अलावा एफआरआई की नौकरी छोड़कर वायु सेना में जाने वाले पौड़ी के अस्वालस्यूं क्षेत्र महड़ गांव की फ्लाइंग ऑफिसर निधि बिष्ट, पहाड़ में स्वयंसेवी सहायता समूह चलाने वाली रुद्रप्रयाग की अनीता देवी, पिथौरागढ़ के मुनस्यारी के दरकोट गांव की ग्रामीण विकास के लिए काम करने वाली गीता देवी पांगती, उत्तरकाशी के नौगांव के कोटियाल गांव में स्थानीय युवाओं के स्वरोजगार पर काम कर रही अक्षिता डोभाल, दुर्गम क्षेत्र में काम करने वाली पिथौरागढ़ के पट्टीवल्ला जौहार की 80 वर्षीय सीता देवी बुर्फाल, साहित्य के क्षेत्र में बीना बेंजवाल, चंबा के पट्टी उदयकोट के गांव धारकोट की प्रधान निवेदिता पंवार, एडवेंचर के लिए धारचूला के गांव जयकोट की कलावती बडाल, ग्रामीण विकास का उदाहरण पेश करने वाली बागेश्वर के गांव अनरशाह की आशा देवी, बागेश्वर के देवलधार में गंगानाथ स्वयं सहायता समूह चलाने वाली व फसल पद्धति पर काम करने वाली अनीता टम्टा, ग्रामीण विकास के लिए काम करने वाली कपकोट के सूपी गांव की तारा टाकुली, चंपावत के गांव सूखीढांग की तारा जोशी और ममता रावत को नंदा देवी वीरता पुरस्कार दिया गया।

इसके अलावा अध्यक्षीय अभिवादन के तहत बालिका संरक्षण के लिए काम करने वाली देहरादून की अंजली नौरियाल को विशेष पुरस्कार दिया गया।ग्राम प्रधान धारकोट निवेदिता पंवार ने कहा कि सर्वप्रथम माँ नंदा देवी के आशीर्वाद से आज मिले सम्मान को मैं अपने माता-पिता, मेरे सास-ससुर, मेरे पति नितेश, मेरे बच्चे, मेरे समस्त सम्मानित ग्रामसभा धारकोट के वरिष्ठ जन, पूर्व प्रधान गण, मेरी मातृशक्ति, मेरी कार्यकारिणी से मेरी उपप्रधान कुसुम देवी, सुषमा देवी, विमला देवी, मंजू देवी, रजनी देवी और ग्राम सभा के प्रत्येक सम्मानित ग्रामवासीगण, मेरे साथ इस कार्यक्रम की और मेरे सम्मान की शोभा बढ़ाने वाले मेरे जेठ भगवंत सिंह रावत, मेरे बेटे-बहु शैलेंद्र पवार और चारुलता पवार जिन्होंने इस कार्यक्रम में मेरे साथ रहकर मेरा सम्मान बढ़ाया, मेरे समस्त सहयोगी जिन्होंने मेरे अच्छे बुरे वक्त में मुझे सहयोग किया,मेरा साथ दिया मैं आप सभी को आज का सम्मान, पुरुस्कार पूर्ण रूप से समर्पित करती हूँ। यह सम्मान आप सभी का है।

Related Posts