ताजा खबरें >- :
आईआईटी रुड़की को 1 जनवरी 2021 से 31 अक्टूबर 2022 की समय सीमा के दौरान पेटेंट फाइलिंग और प्रकाशन के आधार पर पुरस्कार यह दिया गया

आईआईटी रुड़की को 1 जनवरी 2021 से 31 अक्टूबर 2022 की समय सीमा के दौरान पेटेंट फाइलिंग और प्रकाशन के आधार पर पुरस्कार यह दिया गया

देहरादून – आईआईटी रुड़की ने मुंबई में आयोजित एक समारोह में क्वेस्टल आईपी एक्सीलेंस अवार्ड 2022 प्राप्त किया। इन पुरस्कारों के तीसरे संस्करण में, क्वेस्टल, जो कि एक प्रमुख आईपी कंपनी है, द्वारा आयोजित एक समारोह में आईआईटी रुड़की को 1 जनवरी 2021 से 31 अक्टूबर 2022 की समय सीमा के दौरान पेटेंट फाइलिंग और प्रकाशन के आधार पर पुरस्कार यह दिया गया। कुछ अन्य प्रमुख कंपनियां जैसे टीसीएस, सैमसंग, गोदरेज आदि को भी उनके आईपी पोर्टफोलियो के लिए पुरस्कृत किया गया।

क्वेस्टेल के अधिकारियों ने एसोसिएट डीन इनोवेशन एंड इनक्यूबेशन, प्रोफेसर रजत अग्रवाल को आईपी एक्सीलेंस अवार्ड सर्टिफिकेट प्रदान किया। प्रोफेसर अग्रवाल ने अधिक आईपी निर्माण और सुरक्षा के लिए आईआईटी रुड़की द्वारा पर्यावरण को सक्षम बनाने की भूमिका का उल्लेख किया। अधिक आईपी निर्माण और पेटेंट करवाने की सुविधा के लिए कुछ नीतियों को तैयार किया गया।प्रायोजित अनुसंधान और औद्योगिक परामर्श के डीन प्रोफेसर अक्षय द्विवेदी ने उल्लेख किया कि संस्थान पेटेंट की सुचारू फाइलिंग के लिए सभी बुनियादी ढांचा और डेटाबेस का समर्थन प्रदान कर रहा है। पुरस्कार प्रदान करने पर आईआईटी रुड़की के निदेशक प्रोफेसर के के पंत ने संस्थान की पूरी शोध टीम को बधाई दी। उन्होंने कहा कि आईआईटी रुड़की न केवल पेटेंट की मात्रा की तलाश कर रहा है बल्कि आईपी की गुणवत्ता के लिए भी समान रूप से चिंतित है। प्रौद्योगिकी के व्यावसायीकरण या तो प्रौद्योगिकी के हस्तांतरण के माध्यम से या वैज्ञानिक अनपेक्षित लाभ के माध्यम से संस्थान की प्राथमिकताओं में से एक है।

Related Posts