ताजा खबरें >- :
नैनीताल के साथ केदारनाथ, यमुनोत्री और मसूरी में भी रोपवे बनाया जाएगा : मुख्‍यमंत्री

नैनीताल के साथ केदारनाथ, यमुनोत्री और मसूरी में भी रोपवे बनाया जाएगा : मुख्‍यमंत्री

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि उत्तराखंड में पर्यटन को बढ़ाने के लिए सरकार भरसक प्रयास कर रही है। अब तक 2200 होम स्टे का पंजीकरण किया गया है। जो आगे भी जारी रहेगा। राज्य सरकार बेहतर कानून व्यवस्था बनाकर पर्यटकों को सुरक्षित उत्तराखंड का संदेश देने में सफल रही है। राज्य के पर्वतीय इलाकों में बढ़ते तापमान पर चिंता जताते हुए कहा कि इसकी मुख्य वजह गर्मियों में लगने वाली दावानल है। सरकार दावानल की घटनाओं को रोकने को प्रयासरत है। केंद्र सरकार को 275 करोड़ का प्रोजेक्ट सौंपा गया है। जल्द ही इसे मंजूरी मिल जाएगी।

मुख्यमंत्री सोमवार को नैनीताल में यूएनडीपी से एक करोड़ की लागत से स्थापित लेक के रियल मॉनिटरिंग सिस्टम के लोकार्पण अवसर पर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि दवानल की मुख्य वजह चीड़ है। जिसे अभिशाप माना जाता है। सरकार पिरूल से पैलेट्र्स बनाकर व बिजली बनाकर इसे वरदान बनाने को प्रयासरत है। चीड़ से राज्य में 40 हजार लोगों को रोजगार दिया जा सकता है। चीड़ की पत्तियों से औषधि बनाने का शोध सफल हुआ है। जल्द उत्तराखंड के विशेषज्ञ इंडोनेशिया जाएंगे। उन्होंने कहा कि रानीबाग से नैनीताल तक रोपवे निर्माण का सर्वे का पहला चरण पूरा हो चुका है। रानीबाग में डबल लेन पुल स्वीकृत हो चुका है। नैनीताल के साथ केदारनाथ, यमुनोत्री, मसूरी में भी रोपवे बनाया जाएगा।

Related Posts