ताजा खबरें > :
गैरसैंण होगी गर्मियों की राजधानी। राज्यपाल की मिली अनुमति।

गैरसैंण होगी गर्मियों की राजधानी। राज्यपाल की मिली अनुमति।

Image may contain: text

ग्रीष्मकालीन राजधानी विधेयक को राज्यपाल की मंजूरी मिल गई है अब गैरसैण स्थित भराडीसैण उत्तराखंड की ग्रीष्मकालीन राजधानी हो गई है . हालांकि इसकी  घोषणा मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिह रावत ने मार्च 2020 में गैरसैण में हुये  बजट सत्र में ही कर दी थी . सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गैरसैंण  को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने की घोषणा करते वक्त कहा था की …..पूरे राज्य कि जनता की निगाहे हम  पर टिकी है  उत्तरखंड की जनता आज हमसे तमाम तरह की अपेक्षाये कर रही है इस  लिये मै आज गैरसैण भराडीसैण को उत्तराखड की ग्रीष्मकालीन राजधानी घोशित करता हूँ … इसके बाद सदन से लेकर सडक तक राजधानी गैरसैंण की जयकार गूंजने लगी थी

गैरसैण को स्थाई ग्रीष्मकालीन राजधानी घोशित कर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तराखंड की जनता को बडा तोहफा दे दिया है ..राज्य बनने के 20 साल बाद गैरसैण पर अब तक यह सबसे महत्वपूर्ण फैसला है .
यू तो गैरसैण को राजधानी बनाने के लिये जनता को कई बार सब्जबाग दिखाये गये हर राजनीतिक दल ने गैरसैण को अपने चुनावी एजेडे में रखा लेकिन एन मौके पर उत्तराखंड का कोई भी मुख्यमंत्री गैरसैण पर बडा फैसला नही ले पाया .याद किजिये वो दिन जब पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत अपने कार्यकाल का गैरसैण मे अंतिम सत्र चला रहे थे सबको उम्मीद थी कि इस बार जरुर कुछ फैसला होगा लेकिन हरीश रावत भी हिम्मत नही दिखा पाये .ये बात सौ फीसदी सच है कि गैरसैण उत्तराखंड के दिलो मे बसता है .अलग राज्य की लडाई ही इसलिये लडी थी कि पहाड मे ही राज्य के लिये विकास कि योजनाये बनेंगी ..और मुख्यमंत्री भी इस बात को बखूबी समझते है ये भावनाये सदन में गैरसैण को ग्रीष्मकालीन राजधानी  घोशित करते वक्त उनके चेहरे पर साफ तौर पर दिखाई भी दी थी …

 

Related Posts