ताजा खबरें > :
उत्तराखंड में योग,वेलनेस सेंटरों और पंचकर्म सेंटरों को अपना  पंजीकरण करना अनिवार्य होगा

उत्तराखंड में योग,वेलनेस सेंटरों और पंचकर्म सेंटरों को अपना पंजीकरण करना अनिवार्य होगा

प्रदेश में योग एवं पंचकर्म सेंटरों का पंजीकरण अब अनिवार्य होगा। आयुर्वेद निदेशालय में बन रहे योग एवं नेचुरोपैथी प्रकोष्ठ के तहत व्यवस्था की जा रही है।राज्य सरकार ने योग एवं नेचुरोपैथी को बढ़ावा देने के लिए आयुर्वेद विभाग में अलग प्रकोष्ठ गठित करने का निर्णय लिया है। आयुर्वेद निदेशालय के प्रस्ताव को आयुष मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत का अनुमोदन मिल गया है।

जल्द मुख्यमंत्री की मंजूरी के बाद प्रकोष्ठ के आदेश हो जाएंगे। इसके अस्तित्व में आने के बाद राज्यभर के योग, पंचकर्म और वेलनेस सेंटरों का रजिस्ट्रेशन होगा और इनकी नियमित निगरानी भी की जाएगी। योग, पंचकर्म को बढ़ावा देने के लिए प्रकोष्ठ प्रशिक्षित भी करेगा।

शासन स्तर से अनुमति के बाद प्रकोष्ठ अस्तित्व में आ जाएगा। इसमें अभी तक जेडी स्तर के अधिकारी की नियुक्ति की तैयारी थी। अब अपर निदेशक समेत कई पद भी मांगे गए हैं।
आनंद स्वरूप, आयुर्वेद विभाग के अपर सचिव एवं आयुर्वेद निदेशक

Advertisements
Related Posts